श्याम बुलावे राधा नही आवे shyam bulabe radha nahi aave

 श्याम बुलावे राधा नही आवे shyam bulabe radha nahi aave

श्याम बुलावे राधा नही आवे 
चली आईयो राधा प्यारी, बागो में झूले पड़े

कैसे मैं आँऊ, बिन्दियां मोरी चमके 
बिन्दियां मोरी चमके हाँ, बिन्दियां मोरी चमके 
बिन्दियां को उतार के, माथे तिलक लगाक 
चली आईयो राधे प्यारी, बांगो में झूले पड़े ।१।

कैसे मैं आऊँ नथनी मोरी चमके 
नथनी मोरी चमके, नथनी मोरी चमके 
नथनी को उतार के छोटा कोक डाल के 
चली अईयो राधा प्यारी, बांगों में झूले पड़े ।२।

कैसे मैं आऊँ चूडी मोरी खनके 
चूडी को उतार के हाथों में कगंन डाल के 
चली आंईयो राधे प्यारी, बांगो में झूले पड़े।३।

कैसे मैं आँऊ, सास मोरी जागे 
सास को सुला के, पाँव दबा के चली आईयो राधे प्यारी।४।
श्याम बुलावे राधा नही आवे shyam bulabe radha nahi aave

www.bhagwatkathanak.in // www.kathahindi.com

सर्वश्रेष्ठ भजनों की लिस्ट देखने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें

 श्याम बुलावे राधा नही आवे shyam bulabe radha nahi aave

0/Post a Comment/Comments

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताएं ? आपकी टिप्पणियों से हमें प्रोत्साहन मिलता है |

Stay Conneted

आप सभी सज्जनों का स्वागत है देश की चर्चित धार्मिक वेबसाइट भागवत कथानक पर | सभी लेख की जानकारी प्राप्त करने के लिए नोटिफिकेशन🔔बेल को दबाकर सब्सक्राइब जरूर कर लें | हमारे यूट्यूब चैनल से भी हमसे जुड़े |

( श्री राम देशिक प्रशिक्षण केंद्र )

भागवत कथा सीखने के लिए अभी आवेदन करें-


Hot Widget

आप हमसे facebook  instagram youtube telegram twitter पर भी जुड़ सकते हैं। 

                        

( श्री राम देशिक प्रशिक्षण केंद्र )

भागवत कथा सीखने के लिए अभी आवेदन करें-