bhajan sangrah lyrics पॉपुलर भजन लिरिक्स

bhajan sangrah lyrics पॉपुलर भजन लिरिक्स

bhajan sangrah lyrics पॉपुलर भजन लिरिक्स


कृष्ण जन्म बधाई भजन लिरिक्स संग्रह

  1. गोविन्द दामोदर स्तोत्र- करार विन्दे
  2. भजे व्रजैकमण्डनं
  3. अधरं मधुरं वदनं मधुरं,
  4. गोपी गीत लिरिक्स
  5. रुद्राष्टकम- नमामीशमीशान
  6. दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र- विश्वेश्वराय नरकार्ण
  7. श्री राम चंद्र कृपालु भजमन
  8. भए प्रगट कृपाला दीनदयाला
  9. प्रातः स्मरण वैदिक मंत्र
  10. नित्य कर्म के साथ बोले जाने वाले श्लोक
  11. गणेश वन्दना- गाइये गणपति जगवंदन
  12. गुरु महिमा- काहू सौं न रोष तोष 
  13. मेरे सतगुरु दीनदयाल काग से हंस बनाते हैं
  14.  हे मेरे गुरुदेव करुणा,सिंधु करुणा कीजिए
  15. बांके बिहारी रे दूर करो दुःख मेरा,
  16. तेरी अंखिया हैं जादू भरी
  17. श्री राम जी हमारे सब काम कर रहे है
  18. आओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दो
  19. तेरी मर्ज़ी का में हूँ गुलाम
  20. दाता तेरा मेरा प्यार कभी न बदले,
  21. आज अयोध्या की गलियों में 
  22. मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है
  23. मुरली बजा के मोहना क्यों
  24. फूलों में सज रहे है
  25. मेरा गोपाल गिरधारी 
  26. मेरी लगी श्याम संग प्रीत
  27. मतवारी प्यारी चाल मेरो यशोदा को लाल
  28. ना मैं मीरा ना मैं राधा
  29. मैं नहीं, मेरा नहीं यह तन किसी का
  30. किसी के काम जो आये, उसे इन्सान कहते हैं
  31. सुना है तारे है तुमने लाखों
  32. नंदलाल प्यारे, यशुदा दुलारे, नैनो के तारे
  33. जय जय राधा रमन हरी बोल
  34. जिस देश में जिस वेश में
  35. कृष्ण कहने से तर जायेगा 
  36. माँगा है मेने श्याम से, वरदान एक ही,
  37. राम का नाम लेकर जो मर जायेंगे
  38. न तो रूप है न तो रंग है 
  39. संतन के संग लाग रे
  40. थाली भरकर ल्याइै रै खीचड़ौ
  41. मोहे आन मिलो घनश्याम
  42. हो गए भव से पार लेकर नाम तेरा
  43. भाव का भूखा हूँ मैं
  44. छोटी से किशोरी मेरे अंगना में डोले रे
  45. उठ जाग मुसाफिर भोर भई
  46. तेरी बन जैहैं गोविन्द गुण गायेसे
  47. राम नाम के साबुन से जो
  48. राम नाम के हीरे मोती
  49. राजा दशरथ जी के द्वार नौबत बाजि रही
  50. सीता राम सीता राम सीताराम कहिये
  51. भगवान के सच्चे भकतो को 
  52. सरस किशोरी वयस की थोरी
  53. प्रेम नगर की डगर हैं कठिन रे 
  54. आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया
  55.  रे मन मूरख जनम गँवायौ
  56. कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला
  57. कन्हैया झूले पलना नेक हौले झोटा
  58. भूलि गए गोपग्रह गोपिकान्ह भूलि गए
  59. मैंने मेहंदी लगाई रे 
  60. चलो देख आएं नन्द घर लाला हुआ
  61. नन्द के आनंद भयो
  62. आज बृज राज जू कें लाला को जन्म भयौ
  63. मेरे मन आनन्द भयौ, बृजराजहि याचन आयौ
  64. जियौ श्याम लाला जियौ श्याम लाला
  65. बजत बधाई धुनि छाई तिहुँ लोकन में 
  66. पूत सपूत जन्यौ यशुदा
  67. आज बरफी सी बृज नारि बनी
  68. मोतिन के चौक पुरे कंचन कलश धरे
  69. छगन मगन मेरे लाल कौं
  70. नन्दोत्सव के पद भजन 
  71. तेरे सब संकट मिट जाय मिट जाय
  72. जुग जुग जीवै री यशोदा मैया तेरौ ललना
  73. नाचे नन्दलाल नचावे हरि की मईआ
  74. मीठे रस से भरी रे राधा रानी लागे
  75. मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोई
  76. बीत गये दिन भजन बिना रे
  77. तू दयाल, दीन हौं, तू दानी, हौं भिखारी
  78. आली री मोहे लागे वृन्दावन नीको
  79. दूर नगरी, बड़ी दूर नगरी 
  80. दरबार मे राधा रानी के
  81. श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी
  82. अरे मन चल वृन्दावन धाम, रटेंगे राधे राधे
  83. तेरी पार करेंगे नैय्या, भज मन कृष्ण कन्हैया
  84. भज मन राम चरण सुखदाई 
  85. कन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगे
  86. बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया
  87. दरबार हजारों देखे हैं, पर ऐसा कोई दरबार नहीं
  88. राधे तेरे चरणों की गर धूल जो मिल जाए
  89. चले जाएँगे बिहरिजी, सुनलो अरज हमारी
  90. राधे बोल राधे बोल बरसाने की गलियन डोल
  91. क्या भरोसा है इस ज़िंदगी का
  92. साँवरिया, बृज के हो तुम तो अधार
  93. कृपा की न होती जो आदत तुम्हारी 
  94. कृष्ण गोविन्द गोपाल गाते चलो
  95. पायो जी मैंने राम रतन धन पायो
  96. रहना नहिं देस बिराना है
  97. हे बाँके बिहारी गिरिधारी हो प्यार तुम्हारे चरणों में।
  98. नन्हा सा फूल हूँ मैं चरणों की धूल हूँ मैं।
  99. जो शरण गुरू की आया,
  100. संतन के संग लाग रे, तेरी अच्छी बनेगी। 
  101. हरि की कथा सुनाने वाले। तुमको लाखों प्रणाम-2
  102. भगवान के सच्चे भक्तों को 
  103. मुझको ऐसा दो संगीत 
  104. भाव का भूखा हूँ मैं 
  105. मानव जनम अनमोल रे, माँटी में न रोल रे
  106. मैं नहीं मेरा नहीं यह तन किसी का है दिया। 
  107. सुख भी मुझे प्यारे हैं, दुःख भी मुझे प्यारे हैं। 
  108. सबसे ऊँची प्रेम सगाई। 
  109. जायेगा जब यहाँ से
  110. तीन बार भोजन भजन एक बार,
  111. उठ जाग मुसाफिर भोर भई,
  112. भक्त को भगवान का चिन्तन होगा 
  113. हुई हमसे नादानी तेरी महफिल में
  114. मुझे मेरी मस्ती, कहाँ लेके आई। 
  115. गोविन्द गा ले गोपाल गा ले।
  116. प्रभु तेरी मेहरबानी का है बोझ इतना 
  117. सुने री मैंने निरबल के बल राम।
  118. लिखन वालिए तू हो के दयाल लिख दे।
  119. यह प्रेम सदा भरपूर रहे
  120. किसी देवता ने आज 
  121. भज राधे गोविन्दा रे 
  122. चोला मेरा रंग दे 
  123. वाह वाह रे मौज 
  124. काशी घूम लो 
  125. मन्दिर में ना मिलेंगे 
  126. ना मैं मीरा न मैं राधा 
  127. जिसको जीवन में 
  128. तेरा पल पल 
  129. भजनारायण
  130. राम जनम चौपाईयाँ 
  131. श्रीरामचन्द्र कृपालु 
  132. जनम लियो चारों भईया 
  133. राजा दशरथ जी के द्वार 
  134. सीताराम जी की प्यारी 
  135. मुझे रघुवर की सुधि 
  136. राम रमईया गाये जा 
  137. तेरी मर्जी का मैं 
  138. रामजी से पूछे जनकपुर 
  139. कब आयेगा मेरा 
  140. राधे को नाम अनमोल 
  141. नन्दोत्सव के पद 
  142. आ गया-आ गया 
  143. नन्दरानी की खुली 
  144. कान्हा का हुयो अवतार 
  145. अरी नन्द यशोदा के द्वार 
  146. ओ बाजे-बाजै री बधाई 
  147. एक जोगी खड़ा तेरे द्वार 
  148. जियो श्याम लाला 
  149. मैया मोरी मैं नहीं माखन 
  150. मक्खण खा गया बिहारी 
  151. माँगत माखन रोटी 
  152. चोरी-चोरी माखन कूँ 
  153. मतवारी याकी चाल 
  154. आऊँगी कन्हैया बड़ी भोर 
  155. कानों में कुण्डल गल 
  156. मेरा आपकी कृपा से 
  157. मुझे चरणों से लगा ले 
  158. नैनन में श्याम समायगो 
  159. एक दिन तू मेरी गली 
  160. नयनों में नींद भर आई 
  161. ऐसी तान सुना साँवरिया 
  162. ऐ श्याम तेरी बंशी 
  163. तेरी जय हो कुञ्जबिहारी 
  164. रे मुरलिया हरि की 
  165. वंशी बजायगो, 
  166. जमुना किनारे गाँव 
  167. बाँकेबिहारी की बाँकी 
  168. साँवरे रसिया से अपनी 
  169. नैना लड़े मुरलिया वारे 
  170. मेरा दिल तो दीवाना 
  171. गोकुल में देखो वृन्दावन 
  172. सपनों में आने वाले 
  173. तेरे बिना दिलदार 
  174. चलो रे मन श्रीवृन्दावन 
  175. श्रीवृन्दावन धाम अपार 
  176. हमारी गली आना 
  177. मैं तो गोवर्धन कुं जाऊँ 
  178. श्रीगोवर्धन महाराज 
  179. छटा तेरी तीन लोक से 
  180. तेरो सब संकट मिट जाये 
  181. सात कोस वारे मतवारे 
  182. तू एक बार आजा 
  183. छप्पन भोग पद - 
  184. मेरे बाँकेबिहारीलाल 
  185. राधे राधे गाय जा 
  186. हमें तो जोगनिया 
  187. तीनों लोकन से न्यारी 
  188. मोहन से दिल क्यूँ 
  189. तेरी बदल जाये तकदीर - 
  190. अब तो लगी लगन ये 
  191. ये तो प्रेम की बात 
  192. ऊधो मोहे सन्त लगे - 
  193. मुझे अपनी ही दुल्हन 
  194. श्याम नहीं आये 
  195. मेरे सिर पे हाथ रखो 
  196. मेरी करुणामयी सरकार 
  197. कन्हैया ले चल पल्ली पार 
  198. छोड़ वृंदा विपिन कुंज 
  199. मुझे तुमने दाता बहुत 
  200. कर दो कर दो बेड़ा पार 
  201. लेलो बिहारी नन्दलाल 
  202. अपनी धुन में रहता हूँ 
  203. मेरी खुशियों का रहा न 
  204. जय जय राधारमण हरि बोल 
  205. सांवरिया मीठी-मीठ बाजै 
  206. अपनी वाणी में अमृत घोल 
  207. तेरे चरण कमल में श्याम 
  208. श्रीराधा नाचै कृष्णा नाचै 
  209. जब हँस अकेला उड़ 
  210. आओ मेरी सखियों 
  211. किसने सजाया है 
  212. नी मै हथ विच लैके इकतारा 
  213. मैं तो नाचूँगी तेरे दरबार 
  214. साँवरा मेरा साँवरा 
  215. रसिया को नारि बनाओ 
  216. होरी खेले तो आइ जइयो 
  217. मेरे उठे हृदय में हिलोर 
  218. उड़तो रंग गुलाल रसिक 
  219. आज बिरज में होली रे 
  220. फाग खेलन बरसाने आये है 
  221. हम परदेशी फकीर 
  222. कृष्ण के पद 
  223. राधे तेरे चरणों की यदि धूल
  224. नी मैं हथ बिच लैके एक तारा
  225. पकड़ लो हाथ बनवारी नहीं तो डूब जायेंगे। 
  226. बाँके बिहारी मुझको देना सहारा 
  227. श्याम तेरी वंशी बजै धीरे-धीरे। 
  228. तुम रूठे रहो मोहन हम तुमको मना लेंगे 
  229. न यूँ घनश्याम तुम को दुख से घबरा करके छोडूंगा। 
  230. कौन सी ने मार दियौ री टोना, 
  231. राधा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे 
  232. राधा ढूंढ़ रही, किसी ने मेरा श्याम देखा 
  233. छीन लिया मेरा भोला सा मन
  234. एक बार अयोध्या दो बार द्वारका 
  235. मेरा दिल तुझपे करबां मुरलिया वाले रे 
  236. मन चल रे वृन्दावन धाम
  237. सुन बरसाने वारी गुलाम तेरो बनवारी।
  238. मेरौ खो गयो बाजूबन्द रसिया होरी में
  239. राधे-राधे बोलो चले आयेंगे बिहारी। 
  240. या ब्रज में हरि होरी मचाई 
  241. छोटी छोटी गैया छोटे छोटे ग्वाल। 
  242. वृन्दावन के वृक्ष को मरम ना
  243. मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है 
  244. जब तेरी डोली निकाली जायेगी। 
  245. तेरी चौखट पे आना मेरा काम है।
  246. कान्हा, तोइऐ बुला गई नथवारी
  247. वृन्दावन की कुंज गलिन में 
  248. जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा
  249. लगन तुमसे लगा बैठे
  250. लताओं में ब्रज की गुजारा करेंगे 
  251. क्यों ये कहते हो भगवान आते नहीं।
  252. कीरति सुता के पग-पग पर प्रयाग यहाँ 
  253. मेरी चूनर पे रंग मत डाल रसिया
  254. मैं ढूँढ़ फिरी जग सारा, मुझे मिला न
  255. मदनमोहन जरा वंशी बजा दोगे तो क्या होगा
  256. मेरा गोपाल गिरधारी जमाने से निराला है। 
  257. इस तन में रमा करना
  258. घूघट का पट खोल री तोहे पिया मिलेंगे
  259. फूलों में सज रहे हैं श्रीवृन्दावन बिहारी।
  260. तेरी बन जायेगी राम गुण गाये से ।
  261. नीको लगे री वृन्दावन
  262. जशोदा जायो ललना, मैं वेदन में सुनि आई।
  263.  आप बसौ बरसाने अली वृषभानु लली 
  264. कुंज में बिराजै घनश्याम राधे-राधे। 
  265. हमें तो जोगनिया बनाय गयो री
  266. हरि नाम सुनाने वाले तुमको लाखों प्रणाम। 
  267. श्रीराधे गोपाल भज मन श्री राधे।
  268. या व्रज में कछु देख्यो री टोना। 
  269. लाला जनम सुनि आई,
  270. भजन श्यामसुन्दर का करते रहोगे,
  271. माई री मैंने गोविन्द लीनो मोल। 
  272. जे तू न फड़दा साडी बाहँ असां
  273. सारी दुनिया है दिवानी
  274. मोहन से दिल क्यों लगाया है 
  275. बजाओ राधा नाम की, ताली 

  276. श्रीभागवत भगवान की 
  277. अधरधर मुरली बजाया 
  278. सब आरती उतारो 
  279. श्री बांके बिहारी तेरी आरती गाऊं
  280. छप्पन भोग भजन पद
  281. आरती बाल कृष्ण की कीजै
  282. आरती अतिपावन पुराण की
  283. श्रीमद्भागवत के विविध सिद्ध मंत्रों का प्रयोग

bhajan sangrah lyrics पॉपुलर भजन लिरिक्स


0/Post a Comment/Comments

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताएं ? आपकी टिप्पणियों से हमें प्रोत्साहन मिलता है |