Stories of shrimad bhagwat in hindi- श्रीमद् भागवत महापुराण कथानक भूमिका

भागवत कथानक भूमिका
श्रीमद्भागवत महापुराण सप्ताहिक कथा Bhagwat Katha story in hindi
भागवत कथा ऑनलाइन प्रशिक्षण केंद्र- भागवत कथा सीखने के लिए अभी आवेदन करें- 
आवेदन करने के लिए क्लिक करें। 
https://www.bhagwatkathanak.in/p/blog-page_1.html

[ भूमिका ]
भागवत महापुराण भूमिका = अनंतकोटी ब्रम्हांड नायक अचिंत्य कल्याण गुणगण निधान सर्वेश्वर सर्वाधि पति अकारण करुणा वरुणालय , अकारण करुणा कारक सकल जन कल्यशाप हारक परात्परपरब्रह्म , अनंत कोटी कंदर्प दर्प दलन पटियान निर्गुण निराकार सगुण साकार , जगदैक बन्धु करुणैक सिन्धु सच्चिदानंद घन परमात्मा श्री कृष्ण एवं श्री राधा रानी जी के युगल चरण अरविंदो में  दास का बारंबार प्रणाम | समुपस्थित भगवत भक्त भागवत कथा अनुरागी सज्जनों भक्तिमई मातृशक्ति भगनी बांधवो|

भगवतः इदं स्वरूपम् भागवतम् | जो भगवान का स्वरूप है उसे भागवत कहते हैं | तेनतेनेयम् वाड़मयी मूर्तिः प्रत्यक्षः कृष्ण एवहि|यह श्रीमद् भागवत भगवान श्रीकृष्ण की प्रत्यक्ष शब्द मई मूर्ति है | भगवत: प्रोक्तं भागवतम्|भगवान ने जिसका उपदेश किया है उसे भागवत कहते हैं |

भागवतः चरितम् यस्मिन् तद् भागवतम्| जिसमें भगवान के परम पवित्र चरित्र का वर्णन किया है उसे भागवत कहते हैं | भगवत्याः श्री राधायाः गुप्त चरितम् यस्मिन तद् भागवतम्|जिसमें श्री राधा रानी के गुप्त चरित्र का वर्णन किया गया है उसे भागवत कहते हैं | भगवतोःश्री राधा कृष्णयोःइदम् स्वरूपम् भागवतम्| जिसमें श्री राधा कृष्ण के पावन चरित्र का वर्णन किया गया है जो राधा कृष्ण के युगल स्वरूप है उसे भागवत कहते हैं |

भक्ति ज्ञान विरागाणाम् तत्त्वं यस्मिन तद् भागवतम्| जिसमें भक्ति ज्ञान वैराग्य के तत्व का वर्णन किया गया है उसे भागवत कहते हैं|
अथवा भागवत में चार अक्षर है भा, ग, व और त
भा= भाष्यते सर्व वेदेषु
=गीयते नारदादिभिः|
=वदन्ति त्रिषु लोकेष 
=तरन्ति भवसागरः|
जिससे समस्त देवता प्रकाशित होते हैं जिस का गान नारदादि ऋषि तीनों लोकों में करते हैं और जो भवसागर से तारने वाली है उसे भागवत कहते हैं |

भा कीर्तिवाचको शब्दः गकारः  ज्ञान वाचकः |
 वंशाय चरितं चैव पुराणम् पंच  लक्षणम् ||
भागवत में भ अक्षर कीर्ति प्रदान करने वाला है गा अक्षर ज्ञान देने वाला है व अक्षर वैराग्य देने वाला है और त संसार सागर से तारने वाला है |

सर्गश्च  प्रतिसर्गश्च वशों मनवन्तराणि च |
वंशाय चरितम् चैव पुराणं पंच लक्षणम्  ||
यहां सूक्ष्म सृष्टि स्थूल सृष्टि सूर्य चंद्र आदि के वंश का वर्णन मन्वंतर में होने वाले राजा तथा भगवान के भक्तों के वंश का वर्णन किया गया है ऐसे 5 लक्षणों से युक्त ग्रंथ को पुराण कहते हैं परंतु इस श्रीमद्भागवत में 10 लक्षण इसलिए यह महापुराण है श्रीमद्भागवत के प्रारंभ में महात्म का वर्णन किया गया है |महात्म्य का अर्थ होता है महिमा
महात्म्य ज्ञान पूर्वकं  श्रद्धा भवति|
महिमा के ज्ञान के पश्चात ही श्रद्धा उत्पन्न होती है |परम पूज्य गोस्वामी श्री तुलसीदास जी कहते हैं
जाने बिनु ना होत परतीती, बिनु परतीति होत नहीं प्रीती |

जब तक ज्ञान नहीं होता तब तक प्रेम उत्पन्न नहीं होता इस महात्म्य में 6 अध्याय हैं जो पद्मपुराण से लिया गया है जिसमें प्रारंभ के 3 अध्यायों में भक्ति ज्ञान वैराग्य का वर्णन किया गया है 2 अध्यायों में पति धुंधकारी का उद्धार और अंतिम में 1 अध्याय में भागवत सुनने की विधि बताई गई है |
50+ धार्मिक कहानी व दृष्टान्त पड़ें- click hear

(( प्रारंभ में मंगलाचरण करते हैं ))

मित्रों यह थी भागवत की भूमिका इसके बाद महात्म्य शुरू होगा मंगलाचरण से |

भागवत कथा के सभी भागों कि लिस्ट देखें 



भागवत कथा ऑनलाइन प्रशिक्षण केंद्र- भागवत कथा सीखने के लिए अभी आवेदन करें- 
आवेदन करने के लिए क्लिक करें। 
https://www.bhagwatkathanak.in/p/blog-page_1.html

 💧       💧     💧      💧

https://www.bhagwatkathanak.in/p/blog-page_24.html

💬            💬          💬

नोट - अगर आपने भागवत कथानक के सभी भागों पढ़  लिया है तो  इसे भी पढ़े श्री जीयर स्वामी जी महराज की यह भागवत कथा हमारी दूसरी वेबसाइट पर अब पूर्ण रूप से तैयार हो चुकी है 

You should also read this post.

आप लिंक पर क्लिक करके  भागवत कथानक भूमिका की  ऑडियो को भी  सुन सकते हैं  जिससे आपका अभ्यास और बेहतर होगा -

12/Post a Comment/Comments

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताएं ? आपकी टिप्पणियों से हमें प्रोत्साहन मिलता है |

  1. उत्तर
    1. बहुत-बहुत धन्यवाद आप लोगों को अच्छा लगना ही,,, हमारा लिखना सार्थक है |

      हटाएं
  2. राधे राधे महाराज पंचम स्कंध भाग 1 से आगे का भाग नहीं मिल रहा आप की पोस्ट पर कब तक आ जाएगा

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. महोदय सभी भाग उपलब्ध हैं | भागवत के हर भाग के नीचे सभी भागों की लिस्ट दी गई है आप वहीं से अपने मनपसंद भाग को पढ़ सकते हैं |

      हटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताएं ? आपकी टिप्पणियों से हमें प्रोत्साहन मिलता है |

Stay Conneted

आप सभी सज्जनों का स्वागत है देश की चर्चित धार्मिक वेबसाइट भागवत कथानक पर | सभी लेख की जानकारी प्राप्त करने के लिए नोटिफिकेशन🔔बेल को दबाकर सब्सक्राइब जरूर कर लें | हमारे यूट्यूब चैनल से भी हमसे जुड़े |

Hot Widget

 भागवत कथा ऑनलाइन प्रशिक्षण केंद्र 

भागवत कथा सीखने के लिए अभी आवेदन करें

शिक्षाप्रद जानकारी हम अपने यूट्यूब चैनल पर भी वीडियो के माध्यम से साझा करते हैं आप हमारे यूट्यूब चैनल से भी जुड़ें�� नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके YouTube चैनल को सब्सक्राइब करें |